[:en]NFRA issues purchase of 93,27,125 equity shares of Gujarat Road & Infrastructure Company controversy [:hn]गुजरात रोड एंड इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी लिमिटेड (GRICL) समीक्षा रिपोर्ट में गफला [:]

[:en]Delhi, 17 AUG 2020
The National Financial Reporting Authority (NFRA) has issued the Audit Quality Review Report (AQRR) of the Statutory Audit for the year 2017-18 of IL&FS Financial Services Limited (IFIN). The statutory auditor for this engagement was BSR & Associates LLP (BSR).

Investments
2.11.1 NFRA sought the following clarifications from the Audit Firm vide letter dated 23rdOctober, 2019, with regard to sale/purchase of Investments during the FY 2017-18:
a) Whether the Audit Firm had examined the purchase of 93,27,125 equity shares of Gujarat Road & Infrastructure Company Limited (GRICL) and 1,20,00,000 shares of Pipavav Railway Corporation Limited (PRCL) for a consideration of ₹147.18 Crores and ₹54
Crores respectively from a Related Party?
b) Whether the Audit Firm had examined other sale/purchase transactions of investments
to/from related parties?
c) Whether any evidence was collected for verifying the sale/purchase of investments,
including agreements and basis for valuation for (a) and (b) above?
d) Whether any evidence was collected for the verification of the arm’s length nature of the
transactions with related parties?
e) Whether any evidence was obtained/collected for verification of transfer of ownership of
shares, and completion of transactions at agreed price?
f) Whether the Audit Firm had examined the list of related parties to ensure the inclusion of
all the related parties, as disclosed by the Management?

The AQR was conducted pursuant to Section 132(2)(b) of the Companies Act, 2013, and NFRA Rules, 2018, which require the NFRA to, inter-alia, monitor and enforce the compliance with accounting standards and auditing standards.

NFRA has concluded in this AQRR that the appointment of BSR as the statutory auditors of IFIN was ab initio illegal and void. The instances of failure to comply with the requirements of the Standards of Auditing (SAs) by BSR are significant and BSR did not have adequate justification for issuing the Audit Report asserting that the audit was conducted in accordance with SAs. The failure to comply deals with Material Misstatements of major magnitude and fundamental importance, Going Concern assumption by the management, the complete absence of the required communication with Those Charged With Governance, determination of Materiality amounts on the basis of non-relevant factors, etc. Further, NFRA found that the IT processes/platform used by BSR have deficiencies that are systemic and structural in nature.

Separately, NFRA will examine whether disciplinary proceedings under Section 132(4) of the Companies Act, 2013 needs to be initiated in connection with the AQRR.[:hn]राष्ट्रीय वित्तीय रिपोर्टिंग प्राधिकरण (एनएफआरए) ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए आईएल एंड एफएस फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड की वैधानिक लेखा परीक्षा की गुणवत्ता समीक्षा रिपोर्ट जारी की

एनएफआरए ने 23 वें ऑक्टोबार्ट के ऑडिट फर्म वीडियोग्राफी पत्र से निम्नलिखित स्पष्टीकरण मांगे,
वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान निवेश की बिक्री / खरीद के संबंध में 2019:
a) क्या ऑडिट फर्म ने गुजरात के 93,27,125 इक्विटी शेयरों की खरीद की जांच की थी
रोड एंड इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी लिमिटेड (GRICL) और पिपावाव के 1,20,00,000 शेयर
147.18 करोड़ और। 54 के विचार के लिए रेलवे कॉर्पोरेशन लिमिटेड (PRCL)
एक संबंधित पार्टी से क्रमशः करोड़ों?
ख) क्या ऑडिट फर्म ने निवेश की अन्य बिक्री / खरीद लेनदेन की जांच की थी
संबंधित पक्षों से / के लिए
ग) क्या निवेश की बिक्री / खरीद की पुष्टि के लिए कोई साक्ष्य एकत्र किया गया था,
उपरोक्त (ए) और (बी) के लिए मूल्यांकन के लिए समझौते और आधार शामिल हैं?
घ) क्या हाथ की लंबाई प्रकृति के सत्यापन के लिए कोई सबूत एकत्र किया गया था
संबंधित पक्षों के साथ लेनदेन?
ई) के स्वामित्व के हस्तांतरण के सत्यापन के लिए कोई साक्ष्य प्राप्त / एकत्र किया गया था या नहीं
शेयरों, और सहमत कीमत पर लेनदेन के पूरा होने?
च) क्या ऑडिट फर्म ने शामिल किए जाने को सुनिश्चित करने के लिए संबंधित पक्षों की सूची की जांच की थी
प्रबंधन द्वारा बताए गए सभी संबंधित पक्ष?

राष्‍ट्रीय वित्तीय रिपोर्टिंग प्राधिकरण (एनएफआरए) ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए आईएल एंड एफएस फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड (आईएफआईएन) की लेखा परीक्षा गुणवत्ता समीक्षा रिपोर्ट (एक्‍यूआरआर) की वैधानिक लेखा परीक्षा रिपोर्ट जारी की है। इस कार्य के लिए बीएसआर एंड एसोसिएट्स एलएलपी (बीएसआर) वैधानिक लेखा परीक्षक थे।

एक्‍यूआरआर को कंपनी अधिनियम, 2013 की धारा 132 (2) (बी) और एनएफआरए नियमावली, 2018 के अनुपालन में आयोजित की गई जिसके लिए एनएफआरए, लेखा मानकों और लेखा परीक्षा मानकों के साथ अनुपालन की निगरानी और उसे लागू करना आवश्‍यक है।

एनएफआरए ने इस एक्‍यूआरआर ने यह निष्कर्ष निकाला है कि एक आईएफआईएन के वैधानिक लेखा परीक्षकों के रूप में बीएसआर की नियुक्ति गैर-कानूनी और शून्य थी। बीएसआर द्वारा लेखा परीक्षका के मानकों की जरूरतों के अनुपालन में विफलता बहुत महत्‍वपूर्ण है। बीएसआर के पास लेखा परीक्षा जारी करने का ऐसा पर्याप्‍त औचित्‍य नहीं था कि लेखा परीक्षा एसएएस के अनुसार आयोजित की गई थी। प्रमुख परिमाण और मौलिक महत्‍व के भौतिक मिथ्‍या कथन के साथ अनुपालन विफलता और प्रबंधन द्वारा संबंधित पूर्वधारणा, शासन के साथ आवश्‍यक संचार की पूर्ण अनुपस्थिति, गैर-प्रासंगिक कारकों आदि के आधार पर भौतिकता राशियों का निर्धारण आदि पाए गए हैं। इसके अलावा, एनएफआरए ने यह भी पाया कि बीएसआर द्वारा प्रयुक्‍त आईटी प्रक्रियाओं/मंच में भी खामियां हैं जो प्रणालीगत और संरचनात्‍मक स्‍वरूप की हैं।[:]